सस्ता टोकन का दावा करें रिजर्व का प्रमाण

लाभ और हानि की गणना के साथ अपने क्रिप्टो को मैनेज करने के तरीके

महत्वपूर्ण बिंदु
  • how-to-guide , crypto trading,hindi blog,coins
05-Jul-2022 Pankaj Gupta
लाभ और हानि की गणना के साथ अपने क्रिप्टो को मैनेज करने के तरीके


यह ब्लॉग आपको बताएगा कि कैसे लाभ को बढ़ाए और अपने पोर्टफोलियो को बेहतर ढंग से मैनेज करने के लिए अपने बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टो लाभ और हानि का हिसाब रखे। आपके क्रिप्टो करेंसी ट्रेडों के परफॉरमेंस का मूल्यांकन करने के लिए यहां तीन तरीके दिए गए हैं।

यदि आप एक इन्वेस्टर या ट्रेडर हैं, तो आपके द्वारा पहले ही खरीदी गई क्रिप्टो का ट्रैक रखना एक अच्छी आदत है | आप न केवल खराब प्रदर्शन करने वाली एसेट्स को हटाकर अपने पोर्टफोलियो को बेहतर ढंग से मैनेज कर सकेंगे, आप अपने पुरे पोर्टफोलियो परफॉरमेंस को बेहतर करने के लिए अपनी ट्रेडिंग या इन्वेस्टमेन्ट स्ट्रेटेजीज को भी बदल सकते हैं। ट्रेडिंग में अधिक exposure पाने के लिए भारत के अपने ही मार्केटप्लेस CoinGabbar पर मौक ट्रेडिंग का प्रयास करें। अपने लाभ और हानि का हिसाब करना आपके पोर्टफोलियो की निगरानी करने का एक शानदार तरीका है। यह जानने के लिए पढ़ें कि आप इसे तीन अलग-अलग तरीकों से कैसे कर सकते हैं।

ऐसे कई कारण हैं जो क्रिप्टो करेंसी की कीमतों को कंट्रोल करते हैं और आपकी एसेट्स के लिए सबसे अच्छे प्राइस प्राप्त करते हैं जो कि क्रिप्टो में सबसे अधिक लाभ कमाने, ट्रेड करने और कीमत का सही तरीके से इवैल्यूएशन करने के इरादे से इन्वेस्ट किया जाता है। यहां हम साधनो का अधिकतम लाभ उठाते हुए उन सभी का देखेंगे। जब कीमतें खरीदी और इन्वेस्ट की गई एसेट्स को भारी रूप से प्रभावित करती हैं, तो क्या करें।

क्रिप्टो ट्रेडिंग में लाभ और हानि की calculation कैसे करें:

हालांकि यह कठिन लग सकता है, लेकिन आपने कितना पैसा कमाया (लाभ) और कितना पैसा खोया (हानि) का हिसाब करना बेसिक मैथ के उपयोग से आसान हो सकता है। हम आपको नीचे तीन आसान स्टेप्स में इसे पूरा करने का तरीका बताएंगे।

  1. ट्रांसक्शन-टू-ट्रांसक्शन (transaction-to-transaction)

ट्रांसक्शन-टू-ट्रांसक्शन की स्ट्रेटेजी अनुभवी क्रिप्टो करेंसी  ट्रेडर्स के लिए बेहतर है। ट्रांसक्शन-बाए-ट्रांसक्शन के आधार पर आपको अपने फायदे और नुकसान का हिसाब करने के लिए दो काम करने होंगे।

स्टेप 1: अपनी नेटिव करेंसी में, प्रत्येक ट्रेड की कॉस्ट प्राइस और वैल्यू की गणना करें।

स्टेप 2: ट्रेड और कॉस्ट वैल्यू के बीच अंतर की तुलना करके लाभ या हानि को कैलकुलेट करें।

स्टेप 3: कीमतों का विश्लेषण करके ट्रेडिंग फीस का अंदाज़ लगाने या उसका आकलन करने का प्रयास करें, ताकि कुल कीमतों और आपसे लिए जाने वाले खर्चों की गणना की जा सके।

उदाहरण के लिए: *दिखाई दी गई तारीख और प्राइस केवल उदाहरण के लिए हैं। वे नीचे दी गई तारीख पर सही प्राइस को नहीं बताती हैं।

*चीजों को सरल रखने के लिए, हम इस उदाहरण में ट्रेडिंग कॉस्ट को शामिल नहीं करेंगे। हालांकि, ट्रेडर्स को अपनी कॉस्ट प्राइस की कैलकुलेशन में सभी ट्रेडिंग कॉस्ट को शामिल करना चाहिए।

1 जुलाई 2022:

आप 1 BTC के लिए 5,000 USD देते हैं|

5,000 USD कॉस्ट वैल्यू है|

1 बिटकॉइन (BTC) होल्ड पर है|

1 अगस्त 2022:

1 BTC, 30 BNB के लिए तब बेचा जाएगा जब एक BNB टोकन 250 USD के बराबर होगा।

ट्रांसक्शन की वैल्यू  7,500 USD (30 BNB x 250 USD) होगी।

अनरियलाइस्ड प्रॉफिट = 2,500 USD (7,500 USD की ट्रेड वैल्यू  - 5,000 USD की कॉस्ट वैल्यू )

1 सितंबर 2022:

फिर आपने 30 BNB को 5,000 SAND में SAND टोकन के लिए 1.8 USD की कीमत पर बेच दिए।

30 BNB की कॉस्ट के कारण, अगले ट्रेड के लिए आपकी नयी कॉस्ट वैल्यू  7,500 USD होगी।

होल्डिंग्स में 5,000 SAND

ट्रेड वैल्यू में 9,000 USD (5,000 SAND x 1.8 USD)

अनरियलाइस्ड प्रॉफिट : 2,500 USD(9,000 USD - 7,500 USD)

साल की पहली तिमाही के लिए, आपका कुल अनरियलाइस्ड प्रॉफिट 5,000 USD (2,500 USD लाभ + 2,500 USD लाभ) होगा। ट्रेड करते समय आपके द्वारा किए गए किसी भी ट्रेडिंग कॉस्ट्स को ध्यान में रखना न भूलें। ध्यान रखें कि, जबकि अनरियलाइस्ड प्रॉफिट 5,000 USD है, यह बाजार की अस्थिरता पर निर्भर है और स्टॉक की कीमत के आधार पर इसमें उतार-चढ़ाव होगा।

आप होल्डिंग पर है (उदाहरण की लिए SAND)। आपको फायदे का एहसास तब होगा जब आप उन्हें नकद में बेचेंगे। बाजार में उतार-चढ़ाव से बचने और अपने फायदे के लिए, आपको अपनी होल्डिंग्स को BUSD जैसी स्टेबल कॉइन में बदलना चाहिए और इसे नकद में बेचना चाहिए।


2.लाभ/हानि Year-to-Date (YTD)

Year-to-Date(YTD) वर्ष की शुरुआत में आपकी बची हुई राशि की तुलना वर्ष के आखिर से करता है। यह कैलकुलेशन मेथड long-term के क्रिप्टो इन्वेस्टर्स के लिए अधिक उपयुक्त है जो HODL हैं।

नोट: आप प्रत्येक ट्रांसक्शन के समय के बजाय साल के अंत की एक्सचेंज रेट्स का उपयोग करेंगे।

उदाहरण

मान लें कि वर्ष की शुरुआत में आपका बैलेंस हैं:

5,000 USD (1 BTC)

0 USD

मान लें कि वर्ष के अंत में आपका बैलेंस हैं:

0 USD

5,000 SAND

यदि वर्ष के अंत में SAND टोकन की कीमत 2 USD है, तो आपके पोर्टफोलियो की टोटल वैल्यू 10,000 USD होगी।

अनरियलाइस्ड प्रॉफिट = 5,000 USD (वर्ष के अंत में पोर्टफोलियो बैलेंस - वर्ष की शुरुआत में पोर्टफोलियो बैलेंस)

*जब तक आप इसे BUSD जैसी स्टेबल कॉइन से  एक्सचेंज नहीं करते और पैसे नहीं निकालते, तब तक यह अनरियलाइस्ड प्रॉफिट प्राप्त नहीं होगा। 

3.ओपन & क्लोज्ड पोसिशन्स 

आप अपने ओपन और क्लोज्ड पोसिशन्स को भी देखकर अपने परफॉरमेंस को ट्रैक कर सकते हैं। ओपन पोजीशन ऐसे ट्रेड होते हैं जो बाजार में प्रवेश करते समय किए जाते हैं, और जब आप विपरीत दिशा में ट्रेड करते हैं तो क्लोज्ड पोजीशन बन जाते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आपने 0.5 BTC खरीदा है, तो आपके पास एक ओपन पोजीशन है। यदि आप उस 0.5 BTC को बेचते हैं, तो यह एक क्लोज्ड पोजीशन बन जाती है।

ओपन पोजीशन के साथ, आप अपनी पोजीशन को अलग-अलग तरीकों से बाँट सकते हैं, जिसमें शॉर्ट टर्म, लॉन्ग टर्म, वैल्यू और स्पेक्युलेटिव पोजीशन शामिल हैं। अपनी पोसिशन्स को अलग -अलग केटेगरी में व्यवस्थित करके, आप अपनी सभी ओपन पोजीशन के बजाय हर एक पोसिशन्स के आधार पर परफॉरमेंस को ट्रैक करने के लिए एक बेहतर तस्वीर देख पाने में सक्षम होना चाहिए।

क्लोज्ड पोजीशन के लिए, आप उन्हें एक स्प्रेडशीट में डाउनलोड कर सकते हैं और लाभहीन ट्रांसक्शन से लाभदायक ट्रांसक्शन को अलग करने के लिए पहले बताई गई ट्रांसक्शन-टू-ट्रांसक्शन स्ट्रेटेजी का उपयोग कर सकते हैं।उदाहरण के लिए:

*केवल उदाहरण के लिए दिनांक और प्राइस दिखाए गए हैं। नीचे दी गई दिनांक पर वास्तविक कीमतों के बारे में नहीं बताती हैं।

*ध्यान दें कि यह उदाहरण को सरल रखने के लिए ट्रेडिंग फीस पर विचार नहीं करेगा। हालांकि, ट्रेडर्स को कॉस्ट वैल्यू के हिस्से के रूप में सभी ट्रेडिंग फीस को ध्यान में रखना चाहिए।

क्योकि क्रिप्टो में ट्रेडिंग अत्यधिक जोखिम भरा है, कृपया ट्रेडिंग शुरू करने से पहले एक अनुभवी क्रिप्टो ट्रेडर या फाइनेंशियल एडवाइजर की सहायता लें, CoinGabbar किसी भी नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं है।


व्हाट यूअर ओपिनियन
सम्बंधित खबर
संबंधित ब्लॉग
`