सस्ता टोकन का दावा करें रिजर्व का प्रमाण

एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स की खोज में किया जा सकेगा AI का इस्तेमाल

महत्वपूर्ण बिंदु
  • IBM को उम्मीद है कि एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स के लिए एक AI मॉडल डेवलप करके लाइफसेविंग ट्रीटमेंट्स का उत्पादन करके स्केलेबल को और अधिक कुशल बनाया जा सकता है।
  • IBM उन molecules का उत्पादन करने के लिए AI का इस्तेमाल से नए एंटबॉडी के डेवलपमेंट को बढ़ाने की उम्मीद रखते हैं, जिनकी इससे पहले कोई रिसर्च नहीं की गई है।
  • जेनरेटिव AI कैंडिडेट्स को किसी व्यक्ति की एक्सपर्टाइज से बाहर नई सीरीज लागू करके एंटबॉडी के डेवलपमेंट में रुकावटों को दूर करने में मदद कर सकता है।
02-Dec-2023 By: Deeksha
एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स

एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स की रिसर्च के लिए डेवलप किया जा सकता है AI मॉडल

IBM ने नए एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स की खोज में सहायता करने के लिए और अपने AI फाउंडेशन मॉडल का इस्तेमाल करने के लिए ग्लोबल रिसर्च कंपनी Boehringer Ingelheim के साथ एक नए सहयोग की घोषणा की है। IBM का कहना है कि एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स गंभीर बीमारियों की एक वाइड सीरीज से लड़ने के लिए प्रमुख हथियार के रूप में काम करेगा। इसके अलावा यह नया सहयोग और अधिक ट्रेडिशनल ट्रीटमेंट्स की तुलना में लैस साइड इफेक्ट को पैदा करेगा। IBM द्वारा उठाया गया यह कदम मेडिकल की दुनिया में नई क्रांति ला सकता है। इसी के साथ IBM को उम्मीद है कि एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स के लिए एक AI मॉडल डेवलप करके और लाइफसेविंग ट्रीटमेंट्स का उत्पादन करके इसके क्षेत्र को और अधिक विकसित किया जा सकता है। 

एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स में AI के इस्तेमाल से मिलेंगी कई सुविधाएं

IBM Fellow, Europe और Africa के वाइस प्रेसिडेंट एवं IBM Research Zurich के डयरेक्टर Alessandro Curioni ने AI और क्वांटम से परे फाउंडेशनल मॉडल के संभावित लाभों पर ध्यान क्रेंद्रित किया है। 

नए एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स के डेवलपमेंट में रुकावट पैदा करने वाली सबसे महत्वपूर्ण चुनौतियों में से एक है लैबोरेटरी बेस्ड नेचर ऑफ एंटबॉडी रिसर्च। वहीं एक नए एंटबॉडी ट्रीटमेंट्स के सक्सेसफुल डेवलपमेंट के लिए रीपिटेशन बेहद ही जरूरी होता है, जिसका मतलब यह है कि नए ट्रीटमेंट्स को इतनी आसानी से और जल्दी से डेवलप नहीं किया जा सकता है और इस वजह से रिसर्च की स्पीड पर काफी अधिक प्रभाव पड़ता है। इसलिए IBM रिसर्च को आसान बनाने के लिए AI टेक्निक का इस्तेमाल करने जा रहा है। 

IBM और Boehringer Ingelheim उन molecules का उत्पादन करने के लिए AI का इस्तेमाल करके नए एंटबॉडी के डेवलपमेंट को बढ़ाने की उम्मीद भी रखते हैं, जिनकी इससे पहले कोई रिसर्च नहीं की गई है। 

इनके अलावा जेनरेटिव AI, पर-कैंडिडेट्स को किसी व्यक्ति की एक्सपर्टाइज के क्षेत्र से बाहर विभिन्न प्रकार के अनुप्रयोग करने के लिए एक नई सीरीज को लागू करके एंटबॉडी के डेवलपमेंट में रुकावटों को दूर करने में मदद कर सकता है, जिससे ना केवल रिसर्च की संख्या में सुधार होगा, बल्कि इन रिसर्च के इस्तेमाल करने वाले मामलों की संख्या में सुधार होने की संभावना है। 

AI पर Microsoft और Mastercard भी नए-नए इनोवेशन कर रहे हैं। Mastercard ने शॉपिंग एक्सपिरियंस को बेहतर बनाने के लिए और ई-कॉमर्स के लिए अपने Shopping Muse generative AI chatbot असिस्टेंट को लॉन्च करने की घोषणा की है। कुछ दिन पहले Microsoft ने भी खुद के AI चिप्स डेवलप करने की बात रखी थी और अब IBM, AI को मेडिकल से कनेक्ट करने जा रहा है। 

यह भी पढ़े : AI पर बोले Buterin, पृथ्वी पर अगली Apex Species बन सकता है AI

WHAT'S YOUR OPINION?
Related News
Related Blogs