सस्ता टोकन का दावा करें रिजर्व का प्रमाण

नियमों की कमी बनी एक्सचेंजों के लिए SEC से पीछा छुड़ाने का जरिया

महत्वपूर्ण बिंदु
  • Gemini का कहना है कि कोर्ट को SEC द्वारा लगाए गये आरोपों को खरिज कर मुकदमा ख़त्म कर देना चाहिए।
  • SEC के अब तक के दावों के आधार पर Gemini का तर्क है कि रेगुलेटर अब तक अदालत में अपना पक्ष साबित नहीं कर पाया है।
  • SEC ने Gemini की पैरेंट कंपनी Digital Currency Group (DCG) भी एक मुकदमा दायर किया है।
21-Aug-2023 By: Shailja Joshi
नियमों की कमी बनी एक

Gemini ने की SEC द्वारा लगाए गये आरोपों को खरिज करने की मांग 

क्रिप्टो स्पेस के कई बड़े एक्सचेंज SEC से रेगुलेटरी नियमो पर स्पष्टता की कमी और इसके एनफोर्समेंट एक्शन्स से परेशान है। यहाँ तक की SEC के मुकदमो से परेशान हो कर कई एक्सचेंज U.S. को छोड़ चुके है या छोड़ने का मन बना चुके है। SEC U.S. में क्रिप्टो स्पेस पर अधिकार करना चाहता है लेकिन इसके पास रेगुलेटरी नियमो पर स्पष्टता की कमी है। यहाँ तक की नियमो पर स्पष्टता की कमी के कारण क्रिप्टो एक्सचेंज SEC पर भरी पड़ चुके है। हाल ही में Ripple मुक़दमे में SEC को हार का सामना करना पड़ा है। वहीं Binance और Coinbase मुक़दमे को ख़ारिज करने का दावा कर चुके है। लेकिन SEC और उसके अध्यक्ष Gary Gensler का कहना था कि SEC के कानून स्पष्ट है और क्रिप्टो कंपनियां इन नियमों का पालन नहीं कर रही है जिसकी वजह से वह लगातार एक्सचेंजों पर मुकदमा कर रहा है।  

Gemini पड़ा SEC पर भारी 

इसी के चलते अब क्रिप्टो एक्सचेंज Gemini ने एक ब्रीफ दायर कर कोर्ट से मांग की है। Gemini का कहना है कि सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन, उस पर लगाए गए आरोपों को साबित नहीं कर पाया है, इसलिए कोर्ट को SEC द्वारा लगाए गये आरोपों को खरिज कर मुकदमा ख़त्म कर देना चाहिए। शुक्रवार को जमा की गई 15 पेज की फाइलिंग में, Gemini के वकीलों का कहना है कि Gemini अर्न प्रोग्राम सभी नियमो का पालन करता है। लेकिन SEC के अब तक के दावों के आधार पर उनका तर्क है कि रेगुलेटर अब तक अदालत में अपना पक्ष साबित नहीं कर पाया है। 

दरअसल 12 जनवरी को SEC ने रिटेल इन्वेस्टर्स को अनरजिस्टर्ड सिक्योरिटी बेचने के आरोप में Gemini और क्रिप्टो लेंडर Genesis पर मुकदमा दायर किया था। अपनी शिकायत में SEC ने Gemini अर्न और कंपनी के मास्टर डिजिटल एसेट लोन एग्रीमेंट (MDALA) पर आरोप लगाया था कि इसने 340,000 से अधिक इन्वेस्टर्स को अनरजिस्टर्ड सिक्योरिटी बेचीं थी। 

SEC ने Gemini की पैरेंट कंपनी Digital Currency Group (DCG) पर भी एक मुकदमा दायर किया है। पिछले महीने DCG पर आरोप लगाया गया था कि उसने Genesis की फाइनेंशियल सिचुएशन पर गलत जानकारी देकर चैप्टर 11 बैंकरप्सी फाईलिंग की थी। लेकिन DCG ने आरोपों को गलत बताते हुए मुक़दमे को ख़ारिज करने की मांग की थी।       

यह भी पढ़िए : North Korea बना क्रिप्टो स्पेस के लिए खतरा, कर रहा है भारी नुकसान

WHAT'S YOUR OPINION?
Related News
Related Blogs