सस्ता टोकन का दावा करें रिजर्व का प्रमाण

AI के बढ़ते दुरुपयोग पर क्या है UK की नई योजना

महत्वपूर्ण बिंदु
  • AI के बढ़ते दुरुपयोग के खिलाफ UK PM Rishi Sunak ने नवंबर में एक समिट की मेजबानी करने की योजना बनाई है।
  • समिट के जरिए ऐसी संभावना है कि Sunak, AI को लेकर कोई नई योजना की घोषणा करेंगे या फिर वे AI के बढ़ते दुरुपयोग को कम करने के लिए कोई नया कदम उठाएंगे।
  • भारत के PM Narendra Modi ने भी AI के बढ़ते दुरुपयोग को लेकर पूरे विश्व से एक ही नियम लागू करने की योजना पर काम करने की मांग की थी।
03-Sep-2023 By: Deeksha
AI के बढ़ते दुरुपयोग

AI के बढ़ते दुरुपयोग पर Rishi Sunak बना रहे नई योजना

AI का बढ़ता विकास सभी देशों को अपनी और आकर्षित कर रहा है। अब विश्व के सभी देश अपने आप को AI हब बनाने की दौड़ में आगे बढ़ते हुए नजर आ रहे हैं। इसी कड़ी में US और China को इस रेस में पीछे छोड़ने के लिए UK नए-नए कदम उठा रहा है। कुछ दिन पहले UK के PM Rishi Sunak ने हजारों कंम्प्यूटर चिप्स खरीदने की घोषणा की थी। Sunak ने बताया कि वे इसके लिए $130 Million खर्च करने के लिए तैयार हैं। अब UK में सांसद के प्रभावशाली सदस्यों के एक ग्रुप ने आग्रह किया है कि UK गवर्नमेंट AI दुरुपयोग को संबोधित करने के लिए डेमोक्रटेवि अलाइस के साथ सहयोग करें। साइंस, इनोवेशन और टेक्नोलॉजी कमिटी (SITC) ने AI के बढ़ते दुरुपयोग के खिलाफ सामूहिक रूप से सुरक्षा के लिए समान विचारधारा वाले देशों के साथ जुड़ने की सलाह दी है। बता दें कि Rishi Sunak ने नवंबर में एक समिट की मेजबानी करने की योजना बनाई है। इस समिट में AI से जुड़े दिशानिर्देश बनाने के लिए ग्लोबल और टेक लीडर्स को इकट्ठा किया जाएगा, जिससे UK को AI इंडस्ट्री के लिए एक सेंट्रल हब के रूप में स्थापित किया जा सके। 

AI पर होने वाली समिट में PM Sunak करेंगें नई घोषणा

अब एक तरफ UK PM Sunak, UK को AI हब बनाने की रेस में आगे बढ़ने के लिए हजारों कंम्प्यूटर चिप्स खरीदने की बात कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ AI के बढ़ते दुरुपयोग को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए समिट की मेजबानी करने की योजना बना रहे हैं। इस योजना में वे कई लीडर्स को इकट्ठा करने की भी बात कह रहे हैं। इसके अलावा इस योजना को लेकर थोड़ा संदेह यह है कि कही इस समिट के जरिए PM Sunak, AI को लेकर कोई नई योजना की घोषणा करेंगे या फिर वे AI के बढ़ते दुरुपयोग को कम करने के लिए कोई नया कदम उठाएंगे। 

भारतीय PM Modi ने भी AI पर व्यक्त की थी चिंता

बता दें कि हाल ही में भारत के PM Narendra Modi ने भी AI को लेकर प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। PM Modi ने कहा कि पूरी विश्व AI को लेकर उत्साह दिखा रहा है और प्रत्येक क्षेत्र में AI के बढ़ते उपयोग पर चिंता जाहिर की थी। उन्होंने कहा कि पूरे विश्व को AI के बढ़ते इस्तेमाल पर रोक लगाने के बारे में विचार करना चाहिए, क्योंकि अगर ऐसा नहीं किया गया तो इसका बढ़ता प्रभाव समाज के लिए खतरा पैदा कर सकता है। इसके अलावा PM Modi ने इसके बढ़ते इस्तेमाल के लिए ग्लोबल रेगुलेशन बनाने की बात रखी थी। उन्होंने आगे कहा था कि सभी देशों को AI पर विचार-विमर्श करके एक ही रूल लागू करने की योजना पर काम करना चाहिए। AI के बढ़ते विस्तार ने सिर्फ UK और India के सामने मुश्किलें खड़ी नहीं की है, AI की वजह से हॉलीवुड भी भविष्य में आने वाली चुनौतियों का सामना कर रहा है। हॉलीवुड में भी AI को लेकर एक्टर और राइटर्स की हड़ताल जारी है। AI के बढ़ते विस्तार ने पूरे विश्व के लोगों को चिंता में डाल दिया है कि कहीं इसका विस्तार उनके भविष्य को खतरे में ना डाल दे। 

ये भी पढ़े- Ripple vs SEC में जारी तनाव का दौर, Ripple ने पेश किया नया तर्क

व्हाट यूअर ओपिनियन
सम्बंधित खबर
संबंधित ब्लॉग
`