सस्ता टोकन का दावा करें रिजर्व का प्रमाण

भारत में Crypto पर 15 परसेंट टैक्स लागू होने से क्या होंगे परिवर्तन

महत्वपूर्ण बिंदु
  • अब Brazil के नागरिकों को इंटरनेशनल एक्सचेंजों पर Crypto से होने वाली इनकम पर 15% टैक्स का पेमेंट करना होगा।
  • भारत में Crypto गेन्स पर 30% टैक्स लगाया जाता है और Crypto ट्रेडिंग पर 1% TDS लागू कर रखा है, जिसकी वजह से कई Crypto फर्म्स विदेशों की तरफ रुख कर रही हैं।
  • भारत में Crypto पर 15% टैक्स सिस्टम लागू होने से कई बड़े-बड़े निवेशक जो दूसरे देशों में अपने कदम बढ़ा रहे है, भारत में निवेश करने की योजना बना सकते हैं।
01-Dec-2023 By: Deeksha
भारत में Crypto पर 1

Brazil में अगले साल लागू हो सकता है Crypto पर 15% टैक्स सिस्टम

Brazil के सीनेट ने नए इनकम टैक्स रेगुलेशन्स को मंजूरी दे दी है। अब Brazil के नागरिकों को इंटरनेशनल एक्सचेंजों पर Crypto से होने वाली इनकम पर 15% टैक्स का पेमेंट करना होगा। इंटरनेशनल एक्सचेंजों और निवेश फंड से $1,200 से अधिक कमाने वाले Brazil के नागरिकों को इस टैक्स का पेमेंट करना होगा। इसी के साथ Brazil की गवर्नमेंट ने नए साल में यानी 1 जनवरी 2024 को इस टैक्स सिस्टम के लागू होने की संभावना जताई है। Brazil की गवर्नेमेंट का कहना है कि उन्होंने इसके लिए पूरी तैयारी करने के साथ इन करों के लिए 4 बिलियन डॉलर के राजस्व का लक्ष्य भी निर्धारित किया है। बता दें कि Brazil, Crypto को अपनाने के मामले में 9वें स्थान पर तेजी से लोकप्रिय हो रहा है और वर्तमान में Brazil के पास spot Bitcoin ETF के मैनेजमेंट के लिए 100 मिलियन डॉलर की एसेट भी मौजूद है। 

भारत में टैक्स सिस्टम पर परिवर्तन से जुड़े है कई फायदें

जैसा कि हम सभी जानते हैं भारत में Crypto गेन्स पर 30% टैक्स लगाया जाता है और Crypto ट्रेडिंग पर 1% TDS लागू कर रखा है, जिसकी वजह से कई भारतीय Crypto फर्म्स विदेशों की तरफ रुख कर रही हैं। भारत में Crypto में लेकर हो रहे इस परिवर्तन की वजह से निवेशकों की संख्या में भी कमी आ रही है। लेकिन यहां सवाल यह खड़ा होता है कि अगर भारत में भी Brazil की तरह टैक्स सिस्टम को लागू किया जाए, तो देश में कई तरह के बदलाव देखने को मिल सकते हैं। अगर भारत भी Crypto पर 30% टैक्स की जगह 15% टैक्स लागू किया जाता है, तो यह और अधिक निवेशकों और व्यवसाय क्षेत्रों को अपनी ओर आकर्षित कर सकता है। इसके साथ ही भारत में अनेकों संभावनाओं के द्वारा खोल सकता है। 

भारत में Crypto पर 15% टैक्स सिस्टम लागू करने के बाद विदेशों के कई बड़े-बड़े एक्सचेंज और फर्म जो दूसरे देशों की तरफ निवेश करने की योजना बना रहे है, हो सकता है कि वे सभी एक्सचेंज भारत में निवेश करने के बारे में विचार करें। वहीं अगर भारत में बड़ी-बड़ी फर्म और Crypto Exchange निवेश करने की योजना पर काम करते हैं, तो भारत में रोजगार के अवसर में बढ़ोत्तरी होगी। इतना ही नहीं भारत की इकोनॉमी को भी डबल करने में मदद मिल सकती है। 

दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा एक्सचेंज भी चाहता है भारत में टैक्स पर बदलाव

बता दें कि दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा Crypto एक्सचेंज OKX भारतीय डेवलपर कम्युनिटी के साथ आगे जुड़ने के लिए स्टूडेंट बॉडीज के साथ भी साझेदारी कर रहा है और कई ब्रांडिंग प्रयासों और शैक्षिक पहलों में योगदान दे रहा है। लेकिन पहलों में योगदान देने के बाद भी यह एक्सचेंज India में क्रिप्टो एक्सचेंज लॉन्च करने की योजना नहीं बना रहा है। इसके पीछे की वजह का खुलासा करते हुए OKX ने कहा है कि अगर भारत में Crypto रेगुलेटरी फ्रेमवर्क लॉन्च किया जाता है, तो यह भारत में Crypto Exchange सर्विसेज की पेशकश कर सकता है। 

OKX की तरह ना जाने कितने ही बड़े Crypto एक्सचेंज भारत में निवेश करना चाहते हैं, लेकिन कड़े टैक्स नियमों ने उनके हाथों को बांध रखा है। ऐसे में भारत सरकार को एक बार फिर से Crypto से जुड़े नियमों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और भारत में भी दूसरे देशों की तरह टैक्स नियम लागू करने पर विचार करना चाहिए। भारत में जैसे Stock Market में लॉन्ग टर्म पर 10% और शॉर्ट टर्म पर 15% टैक्स लगाया जाता है, अगर वैसे ही Crypto पर भी टैक्स एप्लाई किया जाता है, तो इसमें कई इनवेस्टर्स अपनी रूचि दिखा सकते हैं। इसके साथ ही भारत अपने टर्नओवर में भी बढ़ोत्तरी कर सकता है। 

यह भी पढ़े : सुबह का भूला शाम को लौटा, Coinbase ने की India में वापसी

WHAT'S YOUR OPINION?
Related News
Related Blogs